bhindi ke fayde - भिंडी खाना स्वास्थ के लिए फायदेमंद

bhindi khane ke fayde, bhindi khane e nuksan
image from pixabay 

भिंडी एक ऐसी सब्जी जिसको हर कोई जानता है। इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते है जो शरीर को रोंगों से दूर रखते है। भिंडी की भुजिया खाने में सबको पसंद आता है। यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है। भिंडी पूरे भारत में हर जगह असानी से मिल जाती है। यह लेडी फिंगर के नाम से भी जानी जाती है। और ऐसे इसे भिंडी लोग कहते है। यह भारत के हर हिस्से में पैदा होती है। इस सब्जी को बहुत ज्यादा मात्रा में खाया जाता है। 

भिंडी के अंदर कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर, प्रोटीन की मात्रा पायी जाती है। जोकि सेहत के लिए जरूरी है। इसके आलावा विटामिन और मिनरल्स भी पाया जाता है। जैसे कि विटामिन C, विटामिन E, विटामिन K, विटामिन A पाया जाता है। और मिनरल्स में कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, जिंक की मात्रा पायी जाती है जो सेहद की देखभाल करने के लिए आवश्यक है। 

भिंडी का सेवन करने से कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है। यह हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मदत कर सकती है। 

भिंडी खाने के फायदे | Bhindi Ke Fayde | Benefits Of Lady Finger In Hindi -


भिंडी खाने के फायदे के बारे में जानेंगे ताकि इसकी सही जानकारी हो सके। तो आइये जानते है भिंडी से होने वाले फायदे के बारे में। 

ह्रदय रोगों के लिए फायदेमंद -


भिंडी का सेवन करने से ह्रदय स्वस्थ रहता है।  यह ह्रदय के देखभाल के लिए इसका इस्तेमाल करना लाभदायक साबित हो सकता है। इसमें पाए जाने वाले तत्व ह्रदय स्वास्थ की रक्षा करते है। 

उच्च रक्त चाप कम करे भिंडी -


उच्च रक्त चाप के मरीजों के लिए भिंडी खाना लाभप्रद है। इसके अंदर पोटैशियम की मात्रा पायी जाती है। जोकि  रक्तचाप संतुलन को सामान्य बनाए रखने मदत करती है। यह धमनियों को अराम पहुंचाने में सहायक है। 

अगर उच्च रक्त चाप के मरीज इसका सेवन करते है तो उनके लिए कुछ हद तक लाभदायक है। भिंडी अपने गुण  कारण कई रोगों के लिए अच्छा है। 

 भिंडी का सेवन आंख को सही रखे -


भिंडी का सेवन करने से आँखों की रोशनी अच्छी होती है। इसके अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन A पाया जाता है। जो आँखों की रोशनी के लिए आवश्यक है। इसके अलावा भिंडी में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है जो आँखों की रक्षा करते है। 

आँखों के स्वास्थ लिए ओकरा या भिंडी का सेवन लाभदायक साबित हो सकता है। इसका सेवन सब्जी बनाकर करे। 

पाचन को मजबूत करे -


पाचन को सही बनाए रखने के लिए भिंडी का सेवन करना लाभदायक साबित हो सकता है। इसके अंदर फाइबर की अच्छी मात्रा पायी जाती है। जो पेट को साफ रखने मदत करती है। यह आंतो को स्वस्थ बनाता है जिससे पाचन  कार्य प्रणाली अच्छी हो। 

 इसके अलावा एसिडिटी, अपच, कच्ची ठेकार दूर करने के लिए अच्छा कार्य करता है। 

प्रतिरोधक क्षमता  बढ़ाए -


यह प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने का काम करती है। इसके अंदर कई ऐसे तत्व पाए जाते है जो रोगों से लड़ने में लाभकारी साबित होता है। यह नए कोशिकाओं का निर्माण करने में सहायक है।  

रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने से बाहरी कीटाणु शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते है। इसलिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना जरूरी है। 

कैंसर से बचाव करे -


भिंडी कैंसर से बचाव करने में मदत करता है। इसके अंदर एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते है जो नए कोशिकाओं का निर्माण करने में सहायक है। यह कैंसर रोधी कोशिकाओं को नहीं पनपने देते है।  इसलिए इसका सेवन लाभप्रद साबित हो सकता है। 

भिंडी का सेवन करने से कुछ हद तक कैंसर के खतरे से बचा जा सकता है। इसको अपने आहार में शामिल करना चाहिए।  

वजन को कम करता है भिंडी - 


भिंडी का सेवन करने से वजन कंट्रोल में रहता है। इसके अंदर फैट की मात्रा कम होती है। इसके खाने से वजन बढ़ने का खतरा बहुत ही कम रहता है। इसका मुख्य कारण इसमें फाइबर की मात्रा का होना है जो पेट को अच्छी तरह साफ कर देता है।  

ऐसे में जो लोग मोटापा से परेशान है वे लोग भिंडी का सेवन कर सकते है। 

कब्ज को दूर करे -


यह कब्ज को दूर करने में मदत करता है। इसके सेवन से पेट की सफाई अच्छे से हो जाती है। पैखाना बिल्कुल साफ होता है। इसके वजह से कब्ज की शिकायत नहीं होती है। 

मधुमेह के लिए लाभप्रद -


यह मधुमेह के मरीजों के लिए अच्छा होता है। इसके अंदर रक्त में मौजूद शुगर की मात्रा को कम करने में मदत करता है। इसमें एक प्रकर का युजेनॉल पाया जाता है जो इसे कंट्रोल में रखता है। इसलिए शुगर के मरीज को भिंडी का सेवन करना अच्छा है। 

खून की कमी -


भिंडी खाने से खून की कमी नहीं होती है। इसके अंदर आयरन की मात्रा पायी जाती है। जो हीमोग्लोबिन के स्तर को सामान्य बनाए रखने में मदत करती है। इसका सेवन एनीमिया के मरीज भी कर सकते है। 

पेट की सफाई करे भिंडी -


यह पेट की सफाई करने के लिए काफी अच्छा कार्य करता है। इसके अंदर चिप चिपा पन  होता है इसके अलावा फाइबर की भी अच्छी मात्रा पायी जाती है जो पेट की सफाई करने में सहायक है। 

अगर आपका पेट साफ नहीं रहता तो आपके लिए भिंडी का सेवन लाभदायक हो सकता है। इसके अलावा यह पाचन तंत्र को भी मजबूत करने का कार्य करता है। 

हड्डियों को मजबूत करे भिंडी -


भिंडी खाने से हड्डिया मजबूत होती है। इसके अंदर कैल्शियम, विटामिन C की मात्रा पायी जाती है जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करती है। हड्डियों के मुलायम पन को दूर करके उसमे तागत पैदा करती है। 

इसके अंदर विटामिन K पाया जाता है जो हड्डियों के मजबूती के लिए अच्छा कार्य करता है। विटामिन k के वजह से कैल्शियम अच्छी तरह कार्य करता है। 

 भिंडी में पाए जाने वाले तत्व - Bhindi (Lady Finger Nutrition) In Hindi -


भिंडी के में कई प्रकार के नुट्रिएंस पाए जाते है जो इस प्रकार है। 

As Per USDA Data Base Entry       per 100 grams

ऊर्जा                             33 kcl
कार्बोहाइड्रेट्स                7.46 gram
शुगर                             1.48 gram
फाइबर                          3.3 gram
प्रोटीन                           1.8 gram
फैट                               0.19 gram

विटामिन 

विटामिन A                     36 ug
विटामिन C                     23 mg
विटामिन K                     31.3 ug
विटामिन E                      0.27 mg
थियामिन                        0.3 mg
राइबोफ्लेविन                   0.06 mg
नियासिन                          1 mg
फोलेट                               60 ug

मिनरल्स 

कैल्शियम                         82 mg
आयरन                             0.62 mg
मैग्नीशियम                      57 mg
फॉस्फोरस                         61 mg
जिंक                                  0.58 mg
पोटैशियम                          299 mg 

भिंडी खाने के नुकसान - Side Effects Of Lady Finger (Okra) In Hindi -


वैसे तो भिंडी का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है। और यह गुणों का भंडार है लेकिन कोई भी चीज हिसाब से ही सेवन करे। 

किसी भी चीज को आवश्यकता से अधिक खाना नुकसान दायक साबित हो सकता है। ऐसे में भिंडी भी जरूरत से ज्यादा नहीं खाना चाहिए। 

अधिक मात्रा में भिंडी खाने से ऑक्सलेट की मात्रा बढ़ जाती है जिसके कारण पथरी होने की संभावना होती है। इसलिए हिसाब से खाए  

ज्यादा खाने से अपच की दिक्कत हो सकती है। जिसके वजह से पेट में भारीपन रह सकता है। 

इसको खाने के बाद किसी प्रकार की दिक्कत महसूस हो तो अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते है। 


 
मेरे प्यारे दोस्तों यह लेख कैसा लगा। अगर अच्छा लगा हो तो कमेंट और शेयर करना न भूले। कोई सुझाव देना चाहते है तो कमेंट करके दे सकते है।  धन्यवाद।   


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां