hamare jeevan ka lakshya in hindi                                                                                                                                              लोगों की कड़वी बातो को  बर्दाश्त करना सही है या गलत, इसको समझ पाना बड़ा मुश्किल है। लेकिन यह अक्सर  देखा गया है ,कि वह कड़वी बात हमारे दिल में ऐसे लगती है जैसे कोई हमारे आत्मा पर चोट कर दिया हो।अगर  उसको हम भूलना चाहे भी तो दिमाग  कहता है छोड़ो  इसको भूल जाते है ,पर हृदय उस  कड़वी बातो को  भुलने  के लिए तैयार नहीं होता है वह तब तक उस बात को नहीं भूलता  ,जब तक कि उस कही हुइ कड़वी बात का उत्तर न मिल जाय ,वह बात हमारे दिमाग  में हमेशा घूमती रहती है ,और हमें उस कार्य को पुरा करने के लिए प्रेरित करती है  ,वह हमारे अन्दर छूपी हुई साहस  को जगती है ,जो कुछ हमारे जीवन में गलत हो  रहा है वह कड़वी बाते  उसे रोकती है ,वह हमे सही रास्ते पर लेकर जाती है ,कुछ  करने  की   चाहत हमारे अंदर भर देती है और उर्जावान बनाती है 

लेकिन सही मायने में

                                      -hamare jeevan ka lakshya in hindi

 आप  सही  मानिये उसको भूलना भी नहीं चाहिए ,क्योकि वही कड़वी बात हमारे जीवन की दिशा  बदल देती है वह कड़वी बात उसी तरह होती है जैसे कि धुप में परछाई  ,परछाई तब तक साथ नहीं छोड़ती है, जब तक की छाँव न  हो जाय उसी तरह कड़वी बात तब तक आप का साथ नहीं छोड़ती जब तक की आप का लक्ष्य पूरा न हो जाय।किसी के द्वारा बोली गई कड़वी बात हमारे अवचेतन मन को जगाने का काम करती है। वह बार बार हमें ऊँचा उठने  के लिए प्रेरित करती है। और हमें सही राह पर चलने के लिए मजबूर करती है।वह तब तक मजबूर करती  है जब तक कि हमें ऊँचा  न उठालें।
Thought(विचार )---अगर हम गलत है तो इसको स्विकार करना चाहिए। अगर हम सही है तो झुकना नहीं चाहिए। हमेशा  सही मार्ग पर चलने के लिए  ईश्वर का धन्यावाद  करना चाहिए।
In English
It is very difficult to understand whether it is right or wrong to tolerate the bitter words of the people.But it has often been seen, that the bitter words looks like in our heart, like someone on our soul got hurt If you want to forget him, the mind says, leave it forget it, but the heart is not ready to forget the bitter words, he does not forget that thing till then There is no answer to anything that is bitter, that thing always keeps changing in our mind, and we have to Inspires to complete the work, it awakens in us the hidden courage,Whatever is going wrong in our lives, it bitterly prevents him from doing that, he takes us on the right track,The desire to do something fills us and makes us energized


But truly-

You should not forget even if you think right, because the same bitter thing changes the direction of our lives.That bitter thing happens in the same way as reflection in sunlight. .The shadow does not leave with it until it gets shaken, so the bitter thing does not leave you with it until your goal is complete.The bitter thing spoken by someone makes the work of awakening our subconscious mind. He repeated us high Inspires to raise. And we force us to walk on the right path.He compels it till we do not get elevated.
Thought --- If we are wrong then we should accept it. If we are right then we should not bow down. Always thank God for walking on the right path.